कॉमरेडों की हुंकार, जीतेंगे 29 के 29 प्रत्याशी, फिर लहराएगा परचम - khabar abhi tak

Breaking

Home Top Ad

Responsive Ads Here

Post Top Ad

Responsive Ads Here

Saturday, June 22, 2019

कॉमरेडों की हुंकार, जीतेंगे 29 के 29 प्रत्याशी, फिर लहराएगा परचम


जबलपुर। वेस्ट सेंट्रल रेलवे एम्पलाइज यूनियन (डब्ल्यूसीआरईयू) के कामरेडों ने जमकर हुंकार भरते हुए दावा किया है कि यूनियन के 29 के 29 प्रत्याशी डेलीगेट्स का चुनाव जीतेंगे। यूनियन के महामंत्री मुकेश गालव के अनुसार यूनियन रेल कर्मचारियों के लिए 24 घंटे, 365 दिन तत्पर रहने वाला संगठन है, जो हर समय कर्मचारियों की समस्याओं, उनके सुख-दुख में सहभागिता निभाता है। कर्मचारियों का यही विश्वास यूनियन की ऊर्जा का स्रोत है और इसी विश्वास से कह सकते हैं कि इस बार भी एम्पलाइज क्रेडिट सोसायटी के चुनाव में यूनियन के सभी 29 प्रत्याशी डेलीगेट्स का चुनाव जीतेंगे और लाल झंडा का परचम लहरायेगा। श्री गालव पत्रकारों से चर्चा कर रहे थे। इस मौके पर मंडल सचिव नवीन लिटोरिया, मंडल अध्यक्ष बीएन शुक्ला, आल इंडिया एससी-एसटी एसोसिएशन के सचिव  संजय बी धुले उपस्थित रहे। सभी ने यूनियन के चुनाव चिन्ह लेम्प पर पैनल वोट करने की अपील की।


गौरतलब है कि आगामी 26 जून को दि सेंट्रल रेलवे एम्पलाइज क्रेडिट सोसायटी (ईसीसी) के चुनाव होने जा रहे हैं। इस चुनाव में यूनियन ने वायदा किया है कि वह 5 फीसदी ब्याज दर पर कर्मचारियों को लोन दिलायेंगे। गालव और श्री लिटोरिया ने कहा कि पूर्व में भी यूनियन ने जो वायदा कर्मचारियों से किया, उसे सफलतापूर्वक निभाया। यही कारण है कि रेल कर्मचारियों (शेयर धारकों) का विश्वास डब्ल्यूसीआरईयू पर लगातार कायम है और यही यूनियन की पूंजी है।


1900 करोड़ से ज्यादा टर्नओवर


श्री गालव ने ईसीसी सोसायटी पर प्रकाश डालते हुए कहा कि अंग्रेजों के शासनकाल में यह मल्टी स्टेट कोआपरेटिव सोसायटी 1913 में मात्र 2 लाख 10 हजार की पूंजी से शुरू हुई।इसकी स्थापना करने वालों की मेहनत, समर्पण, पारदर्शिता, ईमानदारी की वजह से यह एशिया की सबसे बड़ी सोसायटी बन चुकी है और इसका वर्तमान में टर्न ओवर 19 सौ करोड़ 62 लाख रुपए है। इस सोसायटी के 1 लाख 45 हजार शेयर धारक हैं। इस सोसायटी की कार्यप्रणाली को नहीं जानने-समझने वाले प्रतिद्वंदी संगठन इस पर तरह-तरह के आरोप लगा रहे हैं, जो मिथ्या है। उन्होंने सभी कर्मचारियों को झूठे प्रचार, भ्रामक प्रलोभनों व फरेब से सावधान रहने की अपील की। उन्होंने कहा कि डब्ल्यूसीआरईयू उतने ही वायदे करेगी, जिसे सोसायटी एक्ट के नियमों के अधीन 5 सालों में पूरा किया जा सके एवं सोसायटी में कर्मचारियों की राशि सुरक्षित रहे।


यूनियन पदाधिकारियों ने कहा कि इस सोसायटी में जरूरतमंद रेल कर्मचारी (शेयरधारकों) द्वारा लोन के लिए आवेदन करने के 24 घंटे के अंदर राशि एनईएफटी द्वारा सीधे खाते में स्थानांतरित कर दी जाती है। उन्होंने कहा कि जो लोग सस्पेंस एकाउंट को लेकर अनर्गल आरोप लगा रहे हैं, उनकी जानकारी के लिए बता दें कि सोसायटी की जबलपुर शाखा में विभिन्न मदों में सस्पेंस एकाउंट जीरो हैं। मात्र सीएमटीडी एकाउंट में 42 हजार 512 रुपए हैं, जो कर्मचारियों के उन स्थानों पर तबादले के कारण जमा हैं, जहां पर ईसीसी की शाखा नहीं है, जैसे ही उनका एकाउंट नंबर मिलता है, यह राशि उनके खाते में चली जाती है।


लोन घटाकर 5 फीसदी किया जायेगा


 महामंत्री गालव ने कहा कि ईसीसी सोयाटी से लोन लेने पर अभी 5.5 प्रतिशत ब्याज लगता  है। अगले कार्यकाल में इसे घटाकर 5 प्रतिशत किया जायेगा। इससे सभी रेल कर्मचारियों को फायदा होगा। इसके अलावा लोन लेने वाले कर्मचारी का इंश्योरेंश कराया जायेगा, जिससे लोन धारक के न रहने पर कर्मचारी के आश्रित एवं गारंटर को लोन राशि न चुकानी पड़े। बकाया लोन राशि इंश्योरेंश कंपनी चुकायेगी।


चुनाव में खड़े प्रत्याशी


सेंट्रल रेलवे एम्पलाइज क्रेडिट कोआपरेटिव सो. के चुनाव के लिए डब्ल्यूसीआरईयू ने अपने केेंडीडेट्स का ऐलान कर दिया है। यूनियन के मंडल सचिव कॉमरेड श्री नवीन लिटोरिया और मंडल अध्यक्ष कॉमरेड श्री बीएन शुक्ला ने बताया कि प्रत्याशी चुनाव मैदान में हैं और सुबह से लेकर देर शाम तक जनसंपर्क में लगे हैं। यूनियन ने जो केंडीडेट्स तय किये हैं, उसमें जबलपुर से 12 केंडीडेट्स हैं, जिसमें मंडल सचिव नवीन लिटोरिया स्वयं चुनाव मैदान में हैं, जिससे रेल कर्मचारियों में काफी उत्साह नजर आ रहा है, अन्य प्रत्याशियों में राकेश कुमार सिंह, मनीष कुमार, अजय कुमार बाजपेयी, प्रहलाद सिंह, जनरैल सिंह राठौड, गनेश श्रीवास्तव, चंद्रशेखर, दीपक सिंह, मनोज कुमार श्रीवास्तव, संजय बी घुले व श्रीमती ज्योतिबाला शामिल हैं. वहीं कटनी से राकेश कुमार पांडे, मुकेश कुमार सिंह, नंद कुमार सिंह, दशरथ प्रसाद भट्ट, अरविंद कुमार, श्रीकृष्ण कुमार, उमेश कुमार पटेल, राजेश कुमार तिवारी व विकाश मीणा हैं, जबकि सतना से विष्णु प्रसाद कुशवाहा, विनोद कुमार चौबे, सुखनारायण शुक्ला व पवन कुमार शामिल हैं, इसी प्रकार दमोह से जगत लाल, राम सहाय मीना व महेंद्र सिंह कुर्मी तथा पिपरिया से इरशाद खान को डबलूसीआरईयू ने लेम्प चुनाव चिन्ह पर मैदान में उतारा है।

No comments:

Post a Comment

Post Bottom Ad

Responsive Ads Here