WCREU के क्रमिक अनशन आंदोलन से घबराए रेल प्रशासन ने कहा 10 मई तक निकाल देंगे जीडीसीई का संशोधित नोटिफिकेशन - khabar abhi tak

Breaking

Home Top Ad

Responsive Ads Here

Post Top Ad

Responsive Ads Here

Tuesday, May 7, 2019

WCREU के क्रमिक अनशन आंदोलन से घबराए रेल प्रशासन ने कहा 10 मई तक निकाल देंगे जीडीसीई का संशोधित नोटिफिकेशन


जबलपुर। सामान्य विभागीय उपयुक्तता परीक्षा के तहत पूर्व में यूनियन के साथ पश्चिम मध्य रेलवे प्रशासन के हुए समझौते के अनुसार पदों को बढ़ाते हुए संशोधित नोटिफिकेशन निकालने में हो रही देरी को लेकर वेस्ट सेंट्रल रेलवे एम्पलाइज यूनियन द्वारा पश्चिम मध्य रेलवे प्रशासन को आंदोलन करने की चेतावनी के बाद आज रेल प्रशासन ने घुटने टेकते हुए यूनियन के महामंत्री मुकेश गालव के नाम पत्र लिखकर कहा है कि रेलवे भर्ती प्रकोष्ठ जबलपुर द्वारा दिनांक 10 मई 2019 तक जीडीसीई जनरल डिपार्टमेंट कॉम्पिटेटिव  एग्जाम के तहत बढ़े हुए पदों का संशोधित नोटिफिकेशन जारी कर दिया जाएगा। उप मुख्य कार्मिक अधिकारी लाल सिंह बैनाडा  ने यूनियन के महामंत्री को पत्र लिखकर अनुरोध किया है कि इस संबंध में यूनियन के तत्वावधान में होने वाले आंदोलन को समाप्त करें एवं प्रशासन के  कार्य में सहयोग प्रदान करें। 

यूनियन के मंडल सचिव नवीन लिटोरिया ने इसे रेल कर्मचारियों की बड़ी जीत बताते हुए कहा है कि पहले रेल प्रशासन ने 55 पदों के लिए नोटिफिकेशन निकाला था, जिसका यूनियन ने कड़ा विरोध करते हुए कहा कि आज सभी विभागों में बड़ी संख्या में पद रिक्त पड़े हैं। विभागीय परीक्षा के लिए पदों की संख्या बढ़ाई जाए जिस पर महाप्रबंधक ने लगभग 270 पदों पर नोटिफिकेशन जारी करने की बात की। लेकिन गत दिनों पश्चिम मध्य रेलवे के मुख्यालय के अधिकारियों द्वारा इस बारे में कोई कार्यवाही नहीं करने से हो रही देरी के कारण यूनियन को आंदोलन कार्रवाई के लिए विवश होना पड़ा।उल्लेखनीय है कि यूनियन ने रेल प्रशासन को 07 मई से पूरे पश्चिम मध्य रेलवे पर बड़ा आंदोलन करने की चेतावनी दी थी। जिसको देखते हुए आज  पश्चिम मध्य रेलवे मुख्य कार्मिक अधिकारी लाल सिंह बैनाडा ने यूनियन के महामंत्री के नाम पत्र जारी कर 10 मई तक बड़े हुए पदों के लिए संशोधित नोटिफिकेशन जारी करने के लिए पत्र दिया है।साथ ही फॉर्म भरने की अंतिम तिथि भी बढ़ाकर 31 मई की जाएगी।मण्डल अध्यक्ष का. बी एन शुक्ला ने बताया कि यूनियन कर्मचारियों के अधिकारों के लिए हमेशा संघर्ष करती रही है इस बार भी यूनियन का संघर्ष सफल रहा।

No comments:

Post a Comment

Post Bottom Ad

Responsive Ads Here