पमरे जीएम ने भारी उल्लास और उत्साह के बीच 376 रेल कर्मचारियों को पुरस्कृत किया - khabar abhi tak

Breaking

Home Top Ad

Responsive Ads Here

Post Top Ad

Responsive Ads Here

Thursday, April 25, 2019

पमरे जीएम ने भारी उल्लास और उत्साह के बीच 376 रेल कर्मचारियों को पुरस्कृत किया

   
                                 
जबलपुर। 64वां रेल सप्ताह समारोह 2019 पश्चिम मध्य रेल के मदन महल स्टेशन के समीप स्थित ’’उत्सव‘‘ सामुदायिक भवन में  बुधवार को उल्लासपूर्वक मनाया गया। भारत में पहली बार 16 अप्रैल 1853 को मुम्बई के बोरीबंदर से ठाणे के बीच पहली रेलगाड़ी चली थी। इस रेल लाईन की लम्बाई मात्र 34 कि.मी. की थी जो आज 65,000 मार्ग कि.मी. से भी अधिक हो गई है। इसी उपलक्ष्य में 1956 से रेल सप्ताह समारोह का आयोजन प्रारंभ हुआ जिसके अंतर्गत बीते हुए वर्ष के कार्य निष्पादन की समीक्षा और आने वाले वित्त वर्ष में इससे बेहतर करने का संकल्प लिया जाता है। इस दिन का सभी रेल कर्मचारियों  को बेसब्री से इन्तजार रहता है क्योकि इस दिन उनके सालभर के कार्याे की समीक्षा होती है। इस दौरान उत्कृष्ट कार्य करने वाले कर्मचारियों/अधिकारियों एवं इकाइयों को पुरस्कृत किया जाता है।

कार्यक्रम का शुभारंभ पश्चिम मध्य रेल के महाप्रबंधक  अजय विजयवर्गीय के द्वारा द्वीप प्रज्वलित कर किया गया। कार्यक्रम के प्रारंभ में अपने उद्बोधन में महाप्रबंधक  अजय विजयवर्गीय ने कहा कि मुझे अत्यंत खुशी है कि प्रत्येक वर्ष की तरह इस वर्ष भी पश्चिम मध्य रेल का रेल सप्ताह समारोह हर्ष एवं उल्लास के साथ मनाया जा रहा है। रेल सप्ताह के इस समारोह में मैं सर्वप्रथम सभी पुरस्कार विजेता कर्मचारियों एवं अधिकारियों को बधाई देता हूँ।आप सभी के प्रयासों से वर्ष 2018-19 के दौरान पश्चिम मध्य रेल ने कई क्षेत्रों में महत्वपूर्ण और सराहनीय कार्य किये हैं। इसके लिए आप सभी प्रशंसा और बधाई के पात्र हैं। 08 मार्च को महिला दिवस को ऐतिहासिक रुप देते हुए मदनमहल स्टेशन को पिंक स्टेशन बनाया गया है और अब यह स्टेशन महिला कर्मचारियों के द्वारा संचालित किया जा रहा है। यह बहुत हर्ष का विषय है कि मदनमहल स्टेशन को देश का तीसरा व मध्यप्रदेश और पमरे का पहला पिंक स्टेशन होने का गौरव प्राप्त हुआ है। 

हमारे लिए यह अत्यंत गौरव की बात है कि दिनांक 14.12.2018 को विज्ञान भवन, नई दिल्ली में आयोजित राष्ट्रीय ऊर्जा संरक्षण दिवस पुरस्कार वितरण समारोह के दौरान राष्ट्रीय स्तर पर रेलवे स्टेशन सेक्टर में ऊर्जा संरक्षण हेतु पश्चिम मध्य रेल के भोपाल मण्डल के विदिशा स्टेशन को प्रथम स्थान प्राप्त हुआ है। इसके लिए मैं आप सभी को बधाई देता हूँ। यह हर्ष की बात है कि भोपाल मंडल के चन्दन सिंह, सहायक उपनिरीक्षक को भारतीय पुलिस मेडल से सम्मानित किया गया।

नेशनल ग्रीन ट्रिब्यूनल के निर्देश पर रेलवे बोर्ड ने कुल 37 स्टेशनों को ईको स्मार्ट स्टेशन बनाने के लिए निर्देश दिए हैं, जिसमें पश्चिम मध्य रेलवे के जबलपुर एवं भोपाल स्टेशन को ईको स्मार्ट स्टेशन के लिए चुना गया है।
पश्चिम मध्य रेल का वर्ष 2018-19 का ऑपरेटिंग रेशियो 66.20 प्रतिशत है, जो कि पमरे के पिछले तीन सालों में बेस्ट है। इस वर्ष की टोटल ऑपरेटिंग अर्निंग  पिछले साल से 8.53 प्रतिशत अधिक है। पश्चिम मध्य रेल के इस वर्ष के अच्छे च्मतवितउंदबम के लिए मैं आप सभी को बधाई देता हूँ और आशा करता हूँ कि आप सभी के अच्छे प्रयासों से हम आगे भी टारगेट एचीव करने में सफल होंगे। रेलवे की सफलता टीम एफर्ट पर निर्भर है, हमें आगे भी इसे जारी रखना है और आप सभी के सहयोग से पश्चिम मध्य रेलवे को नई ऊंचाईयों तक ले जाना है। जीएम ने कहा कि रेल सप्ताह समारोह के इस अवसर पर मैं पुरस्कार विजेताओं के साथ समस्त कर्मचारियों व उनके परिवारजनों को बधाई देता हूँ और आप सभी के उज्जवल भविष्य की कामना करता हूँ।

रेल सप्ताह समारोह के दौरान महाप्रबंधक अजय विजयवर्गीय के द्वारा ऐसे सभी अधिकारी एवं कर्मचारियों को पुरस्कृत किया गया जिन्होंने वर्ष भर उत्कृष्ट कार्य किये। इस जोनल स्तर के कार्यक्रम में महाप्रबंधक द्वारा 22 अधिकारियों तथा 80 कर्मचारियों को पुरस्कृत किया जिन्होंने वर्ष भर उत्कृष्ट कार्य किया। इसके अतिरिक्त 45 सामूहिक पुरस्कार भी दिये गये, जिसमें 274 कर्मचारी शामिल हैं। 
समारोह के दौरान एक सांस्कृतिक कार्यक्रम का आयोजन भी किया गया। कार्यक्रम में पश्चिम मध्य रेल महिला कल्याण संगठन की सदस्यायें, सभी विभाग प्रमुख, तीनों मंडल के मंडल रेल प्रबंधक, अधिकारी एवं कर्मचारीगण, मान्यता प्राप्त यूनियन एवं एसोसियेशन के पदाधिकारियों के साथ ही अन्य जन उपस्थित रहे।

आरएस भुल्लर सम्मानित

इस गरिमामय समारोह में मुख्य टिकट निरीक्षक आर एस भुल्लर को भी महाप्रबंधक ने सम्मानित करते हुए पुरस्कृत किया। उन्हें वाणिज्य विभाग समूह टू श्रेणी में सम्मानित किया गया। उनके साथ ही ए सी टी आई मानस मित्रा, मुख्य टिकट निरीक्षक पंकज शुक्ला, टीटीआई शैलेश उपाध्याय व राममूर्ति मीना भी सम्मानित किये गए।


विभागीय दक्षता शील्ड इस प्रकार हैं। 

1. 
लेखा -
जबलपुर एवं भोपाल

2.
वाणिज्य -
जबलपुर

3.
विद्युत -
भोपाल

4.
इंजीनियरिंग -
जबलपुर

5.
यांत्रिकी -
जबलपुर एवं भोपाल

6.
सुरक्षा -
जबलपुर एवं कोटा

7.
संरक्षा -
भोपाल

8.
सिगनल एवं दूरसंचार -
भोपाल 

9.
परिचालन -
भोपाल

10.
चिकित्सा -
भोपाल एवं कोटा

11.
कार्मिक -
जबलपुर

12.
भंडार -
कोच पुनर्निर्माण कारखाना, भोपाल एवं वेगन रिपेयर शॉप कोटा

13.
ई एन एच एम -
भोपाल

14.
राजभाषा-
भोपाल

15.
बेस्ट केप्ट स्टेशन (NSG 2,3 एवं 4 श्रेणी)
कोटा स्टेशन ( कोटा मंडल)

16.
बेस्ट केप्ट स्टेशन ( NSG 5 एवं 6 श्रेणी)
बारा स्टेशन ( कोटा मंडल) एवं बागरातवा स्टेशन (जबलपुर मंडल)

17.
अंतरमंडलीय टिकिट चेकिंग शील्ड -
भोपाल

18.
बेस्ट रैक अनुरक्षण (सुपर फास्ट ट्रेन के लिए)
गाड़ी क्रमांक 22169/22170
हबीबगंज- संतारागांची हमसफर एक्सप्रेस (भोपाल मंडल)

19.
बेस्ट रैक अनुरक्षण (सुपर फास्ट ट्रेन के अलावा अन्य ट्रेन)
गाड़ी क्रमांक 19803/19804
कोटा- श्री वैष्णो देवी कटरा एक्सप्रेस (कोटा मंडल)

20.
स्क्रैप मैनेजमेंट - कोच पुनर्निर्माण कारखाना, भोपाल
21.
ब्रिज,LHS, LCs एंव कार्य - भोपाल
22.
उर्जा संरक्षण -जबलपुर एवं कोटा
23.
बेस्ट रनिंग रूम अनुरक्षण -
 गंगापुर सिटी (कोटा मंडल)
24
बिल्स रिकवरेबल -भोपाल एवं कोटा
25
निर्माण - जबलपुर एवं भोपाल निर्माण यूनिट
26. 
ओव्हर ऑल इफिसियेंसी शील्ड - भोपाल 


No comments:

Post a Comment

Post Bottom Ad

Responsive Ads Here