WCRMS के प्रयास लाए रंग, एस एण्ड टी स्टाफ को बड़ी राहत, सिग्नल फेल्युअर गैंग होगी गठित - khabar abhi tak

Breaking

Home Top Ad

Responsive Ads Here

Post Top Ad

Responsive Ads Here

Saturday, March 16, 2019

WCRMS के प्रयास लाए रंग, एस एण्ड टी स्टाफ को बड़ी राहत, सिग्नल फेल्युअर गैंग होगी गठित


जबलपुर। पमरे के तीनों रेल मंडलों जबलपुर, भोपाल व कोटा के सिग्नल एंड टेलीकम्युनिकेशन (एसएंडटी) विभाग के कर्मचारियों को बड़ी राहत मिली है। पमरे मुख्यालय ने इनके लिए सिग्नल फेल्युअर गैंग गठित करने का फैसला लिया है। महाप्रबंधक अजय विजयवर्गीय ने वेस्ट सेंट्रल रेलवे मजदूर संघ(WCRMS) की मांग पर इस संबंध में आदेश दिया है।

WCRMS के जोनल  महामंत्री अशोक शर्मा ने बताया कि संघ के अध्यक्ष डॉ आर पी भटनागर के नेतृत्व में  सिग्नल फेल्युअर गैंग गठित की मांग की जा रही थी कि पमरे के तीनों मंडलों में सिग्नल एवं टेलीकॉम विभाग में कार्यरत रेल कर्मचारी जो कि रोड साईड स्टेशनों पर पदस्थ हैं, 8 घंटे डयूटी निर्धारित होने के बाद भी रात्रि में अपने परिवार से मिलने नहीं जा सकते, रात्रि में सिग्नल फेल्योर की आशंका के कारण 8 घंटे की जगह 24 घंटे मुख्यालय पर ही बने रहने के कारण तनाव में उच्च रक्तचाप एवं अन्य गंभीर बिमारियों से ग्रसित हो रहे हैं। इस मामले को पुनः महाप्रबंधक के संज्ञान में लाते हुए सिग्नल विभाग के रेलकर्मियों की इस गंभीर समस्या की तरफ ध्यान दिलाया गया कि पूर्व में रात्रि के समय सिगनल फेल्युअर को अटेण्ड करने के लिये अलग से फेल्युअर गैंग कोटा मंडल में उपलब्ध थी, जिसे विगत 5-6 वर्ष से समाप्त कर दिया गया, जिसके कारण सिग्नल विभाग में कार्यरत रेलकर्मचारियों को 24 घंटे डयूटी करने के लिये बाध्य होना पड़ रहा है। दिन में अपनी डयूटी पूरी करने एवं रात्रि में फेल्युअर अटेण्ड करने पर अंडर रेस्ट कर्मचारी कई बार हादसों के शिकार होकर अपनी जान भी गंवा चुके है। पमरे के जबलपुर एवं भोपाल मंडल मेंं भी सिग्नल विभाग के कर्मचारी समान परिस्थितियों में कार्य कर रहे है। रेलवे बोर्ड द्वारा सिग्नल विभाग के लिये जारी नई यार्ड स्टिक को भी क्षेत्रीय रेलों द्वारा लागू नहीं किया गया। कैडर में अत्यधिक रिक्तियों के कारण कर्मचारियों को साप्ताहिक विश्राम देने हेतु भी अलग से दिशा निर्देश जारी किये गये हैं। रात्रि फेल्युअर गैंग के गठन का मद रेलवे बोर्ड/जोनल मुख्यालय/मंडल स्तर पर लम्बे समय से उठाया जा रहा है, किन्तु प्रशासन द्वारा इस समस्या के निराकरण पर गंभीरता से विचार नहीं किया गया।

महाप्रबंधक पश्चिम मध्य रेलवे श्री विजयवर्गीय द्वारा आज शुक्रवार 15 मार्च को तीनों मंडलों के मंडल रेल प्रबंधकों से वार्ता कर शीघ्र रात्रि फेल्युअर गैंगों के गठन की कार्यवाही करते हुये इसी वर्ष के अप्रेल माह से मुख्य  स्टेशनों पर लागू करने का निर्देश दिया, जो कि सिग्नल एवं टेलीकॉम विभाग के रेलकर्मचारियों के लिये एक बड़ी सौगात है। गौरतलब है कि वर्तमान में छोटे स्टेशनों पर पदस्थ रेलकर्मचारी अपने परिवार को शिक्षा एवं चिकित्सा सुविधाओं के लिये बड़े स्टेशनों पर रखने के लिये मजबूर हैं एवं स्वयं रोड साईड स्टेशनों पर रहकर सप्ताह में एक बार ही परिवार से मिलने का समय निकाल पाते हैं।

WCRMS के जोनल महामंत्री अशोक शर्मा, कार्यकारी महामंत्री सतीश कुमार, मंडल अध्यक्ष एस एन शुक्ला, मंडल सचिव डी पी अग्रवाल, संयुक्त महासचिव एस के वर्मा, महिला विंग की सविता त्रिपाठी, शेख फरीद, विष्णु देव शाह, राकेश सिंह, सुनील टेकचंदानी, के के साहू, एस आर बाउरी, एस के श्रीवास्तव, अवधेश तिवारी, दीना यादव, जी पी सिंह, आर ए सिंह आदि ने इस फैसले का स्वागत किया है।

No comments:

Post a Comment

Post Bottom Ad

Responsive Ads Here