Home / railway / योद्धा होते हैं रेलकर्मी, एनपीएस उन पर कुठाराघात, परीक्षा न ले केन्द्र सरकार : एम राघवैया

योद्धा होते हैं रेलकर्मी, एनपीएस उन पर कुठाराघात, परीक्षा न ले केन्द्र सरकार : एम राघवैया

जबलपुर। वेस्ट सेंट्रल रेलवे मजदूर संघ का द्विवार्षिक अधिवेशन एक दिन पहले कोटा में 27 दिसंबर को प्रारंभ हुआ। आज 28 दिसंबर को भी अधिवेशन जारी है। अधिवेशन के पहले दिन विशाल रैली निकाली गई, जिसमें हजारों रेलकर्मी शामिल हुए। खुला सत्र

का आयोजन भी किया गया। इस दौरान संघ के 9वें द्विवार्षिक अधिवेशन में मुख्य अतिथि के रूप में भाग लेने आए नेशनल फेडरेशन ऑफ इंडियन रेलवेमैन (एनएफआईआर) के महामंत्री डॉ. एम राघवैया ने केन्द्र सरकार पर तीखे प्रहार करते हुए कई आरोप जड़े। डॉ. एम राघवैया ने कहा कि रेल

कर्मी योद्धा की तरह काम करते हैं। रोजाना ड्यूटी के दौरान दो रेलकर्मियों की जान जा रही है। इसके बावजूद केन्द्र सरकार उनकी वाजिब मांगों को लेकर गंभीर नहीं है। उन्होंने कहा कि यू पेंशन स्कीम(एनपीएस) रेलकर्मियों पर कुठाराघात है। इसके दायरे में 7 लाख 25 हजार से ज्यादा रेलकर्मी आ चुके हैं। एनपीएस को खत्म कर पुरानी पेंशन योजना लागू करने की मांग एनएफआईआर व डब्ल्यूसीआरएमएस द्वारा वर्ष 2004 से मांग की जा रही है,लेकिन केन्द्र सरकार हमारी परीक्षा लेने पर उतारू है। हमारे पास पूर्ण हड़ताल ही अंतिम विकल्प है, लेकिन यदि हम हड़ताल पर चले गए तो रेलवे को हर रोज 3 हजार करोड़ का नुकसान होगा, वहीं रोजाना 2 करोड़ 40 लाख यात्री परेशान होंगे। हम यात्रियों को परेशान नहीं करना चाहते और न ही रेलवे को नुकसान पहुंचाने की मंशा रखते हैं, पूर्व रेलमंत्री मल्लिकार्जुन खडग़े और सुरेश प्रभु द्वारा एनपीएस को लेकर प्रस्ताव भेजे जाने के बावजूद केन्द्र सरकार ने इसे खत्म करने का कदम नहीं उठाया। डॉ.राघवैया ने कहा कि सरकार रेलवे को प्रयोगशाला बनाने में जुटी है। बुलेट ट्रेन देश के हित में नहीं है। डॉ. एम राघवैया ने कहा कि आगामी 7 जनवरी को देश के सभी जोनल मुख्यालय व डीआरएम कार्यालय के समक्ष न्यू पेंशन स्कीम को खत्म करने की मांग को लेकर प्रदर्शन किया जाएगा।

पत्रकारवार्ता में वेस्ट सेंट्रल रेलवे मजदूर संघ के अध्यक्ष डॉ. आरपी भटनागर ने भी केन्द्र सरकार पर रेलवे के निजीकरण, न्यू पेंशन स्कीम, रेल कारखानों में बढ़ रही ठेकेदारी प्रथा को लेकर तीखे हमले बोले। वेस्ट सेंट्रल रेलवे के महामंत्री अशोक शर्मा, कार्यकारी अध्यक्ष सीएम उपाध्याय, कार्यकारी महामंत्री सतीश कुमार, कोषाध्यक्ष अनुज तिवारी, मंडल अध्यक्ष भोपाल राजेश पाण्डे, मंडल अध्यक्ष कोटा जीपी यादव, मंडल अध्यक्ष जबलपुर एसएन शुक्ला, उपाध्यक्ष मुख्यालय अमित भटनागर, मंडल सचिव कोटा अब्दुल खालिक, मंडल सचिव जबलपुर डीपी अग्रवाल, महिला विंग की महामंत्री सविता त्रिपाठी, मुख्यालय सचिव भोपाल बीडी मिश्रा, सचिव मुख्यालय मनोज अग्रवाल, संयुक्त महामंत्री जितेन्द्र बहादुर सिंह, सहायक महामंत्री एमएस पुरी, जोनल संगठन सचिव आरके यादव आदि मौजूद रहेंगे।

रैली में दिखाई ताकत, किया प्रदर्शन

वेस्ट सेंट्रल रेलवे मजदूर संघ के महामंत्री अशोक शर्मा ने जानकारी देते हुए बताया कि द्विवार्षिक अधिवेशन के पहले दिन 27 दिसंबर को अपरान्ह 3 बजे स्व. केशव कुलकर्णी मेमोरियल हॉल कोटा से विशाल रैली निकाली गई, जिसमें कोटा, भोपाल व जबलपुर डिवीजन से आए हजारों रेलकर्मी, संघ के पदाधिकारी, कार्यकर्ता व सदस्य शामिल हुए। रैली में रेलकर्मियों के हित से जुड़ी दर्जनों मांगों को लेकर नारेबाजी, प्रदर्शन किया गया। रैली में वेस्ट सेंट्रल रेलवे के महामंत्री अशोक शर्मा, कार्यकारी अध्यक्ष सीएम उपाध्याय, कार्यकारी महामंत्री सतीश कुमार, कोषाध्यक्ष अनुज तिवारी, मंडल अध्यक्ष भोपाल राजेश पाण्डे, मंडल अध्यक्ष कोटा जीपी यादव, मंडल अध्यक्ष जबलपुर एसएन शुक्ला, उपाध्यक्ष मुख्यालय अमित भटनागर, मंडल सचिव कोटा अब्दुल खालिक, मंडल सचिव जबलपुर डीपी अग्रवाल, महिला विंग की महामंत्री सविता त्रिपाठी, मुख्यालय सचिव भोपाल बीडी मिश्रा, सचिव मुख्यालय मनोज अग्रवाल, संयुक्त महामंत्री जितेन्द्र बहादुर सिंह, सहायक महामंत्री एमएस पुरी, जोनल संगठन सचिव आरके यादव आदि हजारों लोग मौजूद रहे।

About Editor

यह भी पढ़ें

जबलपुर-हरिद्वार, जबलपुर-पुणे स्पेशल को करो नियमित, मैसूर तक बढ़ाई जाए यशवंतपुर स्पेशल

जबलपुर। पश्चिम मध्य रेल क्षेत्रीय रेल उपयोगकर्ता परामर्शदात्री समिति की 16 वीं बैठक 17 जनवरी …

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *