Home / Top / 13550 मेगावाट के ऊपर पहुंची बिजली की अधिकतम डिमांड

13550 मेगावाट के ऊपर पहुंची बिजली की अधिकतम डिमांड

जबलपुर। एमपी पावर मैनेजमेंट कंपनी के प्रबंध संचालक संजय कुमार शुक्ल ने बताया कि इस वर्ष रबी सीजन में 27 दिन बिजली की मांग 13000 मेगावाट से ऊपर दर्ज हुई। प्रदेश में 17 नवम्बर को पहली बार 13035 मेगावाट से बिजली की मांग प्रांरभ हुई। इस रबी सीजन के दौरान प्रदेश में 24 दिसंबर को सर्वाधिक बिजली की मांग 13550 मेगावाट के ऊपर दर्ज हुई, जिसकी सफ लतापूर्वक सप्लाई की गई। प्रदेश में पिछले वर्ष के आज के दिन की तुलना में 1600 मेगावाट से ज्यादा की वृद्धि दर्ज हुई हैा प्रदेश में पिछले वर्ष की तुलना में बिजली की मांग में वृद्धि होने का मुख्य कारण घरेलू उपभोक्ताओं को 24 घंटे गुणवत्तापूर्ण बिजली की सप्लाई और कृषि क्षेत्र में 10 घंटे सतत् व गुणवत्तापूर्ण बिजली की सप्लाई है। पूर्व वर्षों की तुलना में कृषि क्षेत्र के बढऩे के साथ सिंचित क्षेत्र का बढऩा महत्वपूर्ण तथ्य है। उल्लेखनीय है कि पछिले वर्ष की अधिकतम बिजली की मांग 28 दिसंबर 2017 को 12240 मेगावाट दर्ज की गई थी।

प्रबंध संचालक शुक्ल ने बताया कि इस रबी सीजन में अभी तक बिजली की अधिकतम मांग 24 दिसंबर को 13550 मेगावाट के ऊपर पहुंच चुकी है। 17 नवम्बर को 13035, 20 नवम्बर को 13053, 21 नवम्बर को 13080, 23 नवम्बर को 13255, 25 नवम्बर को 13276, 26 नवम्बर को 13200, 27 नवम्बर को 13304 मेगावाट, 4 दिसंबर को 13430 मेगावाट, 8 दिसंबर को 13474 मेगावाट और 24 दिसंबर को 13550 मेगावाट से ऊपर बिजली की अधिकतम मांग दर्ज हुई है।

मध्यप्रदेश पश्चिम क्षेत्र विद्युत वितरण कंपनी इंदौर व उज्जैन में 5500 मेगावाट से ऊपर की बिजली की मांग दर्ज हुई है। वहीं प्रदेश के मध्य क्षेत्र विद्युत वितरण कंपनी भोपाल व ग्वालियर में 4500 मेगावाट के ऊपर एवं पूर्व क्षेत्र विद्युत वितरण कंपनी जबलपुर, सागर व रीवा में भी 3600 मेगावाट के ऊपर बिजली की मांग दर्ज हुई है।

About Editor

यह भी पढ़ें

जबलपुर-हरिद्वार, जबलपुर-पुणे स्पेशल को करो नियमित, मैसूर तक बढ़ाई जाए यशवंतपुर स्पेशल

जबलपुर। पश्चिम मध्य रेल क्षेत्रीय रेल उपयोगकर्ता परामर्शदात्री समिति की 16 वीं बैठक 17 जनवरी …

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *